शेड्यूल के अनुसार घर-घर चलेगा सुपोषण, टीकाकरण व स्वास्थ्य जाँच, परामर्श अभियान
March 9, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर जनपद में पोषण पखवाड़ा प्रारंभ।
卐 कुपोषण को जड़ से खत्म करना उद्देश्य, दिलाई गई शपथ।
卐 परिवार को संपूर्ण बनाने में महिला का होता है महत्वपूर्ण योगदान: मंत्री, तकनीकी शिक्षा
卐  महिला जननी है, सम्मान करें: मंत्री, श्रीमती नीलिमा कटियार
卐 अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के दिन से 22 मार्च तक चलेगा पोषण पखवाड़ा: मण्डलायुक्त

कानपुर नगर (सूचना विभाग)। पोषण पखवाड़ा के शुभारंंभ पर मुख्य अतिथि के रूप में मंत्री तकनीकी शिक्षा श्रीमती कमल रानी वरुण, विशिष्ट अतिथि के रूप में उच्च शिक्षा, राज्यमंत्री श्रीमती नीलिमा कटियार ने कार्यक्रम में उपस्थित गर्भवती महिलाओं की गोद भराई कार्यक्रम करते हुए बच्चों को अन्नप्राशन कराया। मंत्री श्रीमती कमल रानी वरुण ने उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि लड़के-लड़कियों में आज समाज में थोड़ी हीनता है जब किसी के घर कोई लड़का पैदा होता है तो घरों में थाली बजती है वहीं जब लड़की पैदा होती है तो सब नर्वस हो जाते हैं। ऐसा नहीं है, आज समाज में जो स्थान महिलाओं का है उसे पुरुषों से नहीं पूर्ण किया जा सकता क्योंकि महिला जगत जननी है बिना महिला के समाज की परिकल्पना नहीं की जा सकती है सभी को महिलाओं का सम्मान करना चाहिए। कार्यक्रम में मंत्री श्रीमती नीलिमा कटियार ने अपने संबोधन में कहा कि समाज में  महिलाओं को आज घर के साथ-साथ  बाहर भी कार्य होता है इसके लिए सभी महिलाओं को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता के साथ स्वस्थ रहते हुए अपने स्वच्छ परिवार को आगे बढ़ाना है। इसके लिए उन्हें परिवार के साथ-साथ अपना भी विशेष ध्यान रखना है उन्हें समय पर खाना और अपना ध्यान रखना है क्योंकि एक परिवार को संपूर्ण बनाने में महिला का महत्वपूर्ण साथ होता है इसके लिए उसे स्वस्थ रहने की बहुत जरूरत है। मण्डलायुक्त सुधीर एम बोबडे ने कहा कि जब तक हमारा समाज स्वस्थ नहीं होगा तब तक एक अच्छे समाज की परिकल्पना नहीं हो सकती है इसके लिए समाज के बच्चों को महिलाओं को पुरुषों को युवतियों को स्वस्थ रखने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पोषण पखवाड़ा चलाया जा रहा है जो अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के दिन 8 मार्च से प्रारंभ होकर 22 मार्च तक चलेगा जिसमें एक-एक दिन का शेड्यूल तैयार किया गया है जो गांव-गांव जाकर आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों के माध्यम से गर्भवती महिलाओं बच्चों को सुपोषण हेतु उनके टीकाकरण उनका वजन करना आदि के विषय में कार्यक्रम करेंगे। इस पोषण पखवाड़ा के माध्यम से सभी को स्वस्थ रहने के लिए जागरूक कराया जाएगा। जब तक समाज में स्वच्छता तथा स्वास्थ्य के प्रति लोग जागरूक नहीं होंगे तब तक एक संपूर्ण स्वस्थ समाज नहीं बन सकता। इसके लिए सभी को जागरूक करते हुए उन्हें अपनी तथा अपने परिवार की चिंता करनी होगी इसके लिए उन्हें जागरूक किया जाएगा। जिलाधिकारी डॉ ब्रह्म देव राम तिवारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि आधी दुनिया की रिपेजेंट करने वाली शक्ति स्वरूपा जिनसे ही हर-घर बनता है उन पर ही समर्पित है। आज ही के दिन विश्व में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है सभी महिलाओं को इस दिवस की हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि विश्व महिला दिवस के रूप में आज पोषण पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है इसके माध्यम से पोषण पखवाड़े में पुरुषों की सहभागिता सुनिश्चित कराना है। महिलाओं के स्वास्थ्य की चिंता पुरुषों को भी हो उनके सुख-दुख में उन्हें भी गम्भीर होना होगा क्योंकि महिला आज समाज के हर क्षेत्र में पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिला कर कार्य कर रही है जो महिलाएं जॉब कर रही हैं उनको घर बाहर दोनों को संभालना पड़ता है ये कोई आसान काम नहीं है नारी स्वयं में ही घर है और घर के कामों में हाथ बताना पुरुषों की भी जिम्मेदारी है कहा जाता है कोई स्त्री नहीं है तो वह घर घर नहीं कहलाता वह घर रैन बसेरा होता है और जब घर में स्त्री होती है तो वह घर-घर का रूप होता है। घर बनाता है तो घर से ही परिवार बनता है परिवार से ही संसार बनता है। घर परिवार संसार का आधार महिलाएं ही है। जब तक सुपोषित नहीं हैं तब तक वह शिक्षित नहीं है। जब तक वह सशक्त नहीं है तब तक हम किसी स्वच्छ सशक्त समृद्ध समाज की कल्पना नहीं कर सकते क्योंकि जब तक महिलाओं को बराबरी का हक नहीं मिलता तब तक हमारा समाज सशक्त नहीं है। कार्यक्रम में अच्छा कार्य करने वाली महिलाओं को जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी की पत्नी निदेशक स्वास्थ्य उत्तर प्रदेश, आई एएस डॉ पूजा पाण्डेय ने प्रशस्ति पत्र देकर महिलाओं को सम्मानित किया। कार्यक्रम में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता हेतु शपथ भी दिलाई गई। इस अवसर पर विधायक महेश त्रिवेदी, मुख्य विकास अधिकारी सुनील कुमार सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अशोक शुक्ला तथा जिला कार्यक्रम अधिकारी व अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे।