शुक्रवार को पहली बार प्रदेश में एक दिन में 8112 टेस्ट किये गए जो अब तक का रिकॉर्ड है : प्रमुख सचिव स्वास्थ्य
May 24, 2020 • Mr Arun Mishra

पहली बार प्रदेश में प्रतिदिन 8000 टेस्ट्स की संख्या को उत्तर प्रदेश ने पार किया

> गोरखपुर में अब तक 163 ट्रेन से सर्वाधिक 2,00,247 प्रवासी कामगार एवं श्रमिक आये : एसीएस, होम

> कौशांबी, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, इटावा, कुशीनगर, हमीरपुर, बहराइच, लखीमपुर खीरी में भी ट्रेन से प्रवासी कामगार आ रहे हैं : एसीएस, होम

> प्रदेश में गुजरात से सर्वाधिक 397 ट्रेन से 5,65,333 प्रवासी कामगारों को लेकर प्रदेश में आ चुकी हैं : एसीएस, होम

> कोरोना वायरस के दृष्टिगत प्रदेश में लॉकडाउन अवधि में पुलिस विभाग द्वारा की गयी कार्यवाही में फेस मास्क न लगाने वाले 5,298 लोगों का चालान करते हुए 4,98,750 रुपए जुर्माना वसूला गया : एसीएस, होम

> हॉटस्पॉट क्षेत्र में लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले 38,472 लोगों पर कार्रवाई करते हुए 24,59,650 रुपए का जुर्माना वसूल किया गया : एसीएस, होम

> दोपहिया वाहनों पर एक से अधिक सवारी बैठाने वाले 18244 लोगों से 14,90,725 रुपए का जुर्माना वसूल किया गया : एसीएस, होम

> प्रदेश में स्थापित 5862 क्रय केन्द्रों के माध्यम से लगभग 259.14 लाख कुन्तल गेहूँ की खरीद की जा चुकी है : एसीएस, होम

> श्रमिक भरण-पोषण योजना के तहत निर्माण कार्यों से जुड़े, नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के लगभग 32.77 लाख श्रमिकों एवं निराश्रित व्यक्तियों को भी एक-एक हजार का भुगतान किया जा चुका है : एसीएस, होम

> शुक्रवार को 836 पूल टेस्ट किये गये, जिसमें 143 पूल पॉजीटिव पाये गये : प्रमुख सचिव स्वास्थ्य

> आरोग्य सेतु अलर्ट जनरेट होने पर अब तक कुल 30,994 लोगों को फोन कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली गयी : प्रमुख सचिव स्वास्थ्य 

> आशा वर्कर्स द्वारा अब तक 7,44,821 प्रवासी कामगारों से उनके घर पर जाकर सम्पर्क किया गया : प्रमुख सचिव स्वास्थ्य 

> प्रदेश के 2500 से अधिक निजी चिकित्सालयों में इमरजेन्सी सेवाएं प्रारम्भ : प्रमुख सचिव स्वास्थ्य

शनिवार 23 मई को लोक भवन मीडिया सेल में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना श्री अवनीश कुमार अवस्थी एवं प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद।

लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने शनिवार 23 मई को लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिया है कि प्रदेश में आ रहे प्रत्येक प्रवासी कामगार को सुरक्षित उनके गृह जनपद में घर तक पहुंचाया जाए। उन्होंने कहा है कि राज्य की सीमा में प्रवेश करते ही सभी प्रवासी कामगारों को सबसे पहले भोजन व पेयजल उपलब्ध कराया जाए। साथ ही पेयजल के लिए आवश्यकतानुसार टैंकरों की भी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने हर जरूरतमंद को भोजन एवं खाद्यान्न उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए हैं। श्री अवस्थी ने बताया कि देश में सबसे अधिक प्रवासी कामगार उत्तर प्रदेश में आये हैं, जो कि एक रिकार्ड है। प्रदेश में अब तक 1269 ट्रेन के माध्यम से लगभग 17.47 लाख से अधिक प्रवासी कामगार एवं श्रमिक को लाये जाने की व्यवस्था की गई है, इनमें से अब तक 1018 ट्रेन से 13.54 लाख लोगों को प्रदेश में लाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि अगले 24 घंटे में 178 ट्रेन और प्रदेश में आ जाएंगी। सभी जनपदों के जिलाधिकारी द्वारा सम्बंधित जनपदों में ट्रेन से आ रहे प्रवासी कामगारों का स्वास्थ्य परीक्षण कराकर उनको उनके घर तक पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गोरखपुर में अब तक 163 ट्रेन से 2,00,247 कामगार एवं श्रमिक आये हैं। लखनऊ में 75 ट्रेन के माध्यम से 96,479 लोग आए हैं। वाराणसी में 67, आगरा में 10, कानपुर में 15, जौनपुर में 76, बरेली में 10, बलिया में 47, प्रयागराज में 44, रायबरेली में 18, प्रतापगढ़ में 44, अमेठी में 13, मऊ में 27, अयोध्या में 31, गोण्डा में 57, उन्नाव में 27, बस्ती में 49 ट्रेन जबकि आजमगढ़ में 27, कन्नौज में 02, गाजीपुर में 16, बांदा में 15, सुल्तानपुर में 22, बाराबंकी में 10, सोनभद्र में 02, अम्बेडकरनगर में 18, हरदोई में 15, सीतापुर में 07, फतेहपुर में 07, फर्रुखाबाद में 01, कासगंज में 08, चंदौली में 09, मानिकपुर (चित्रकूट) में 01, एटा में 01, जालौन में 02, रामपुर में 01, शाहजहांपुर में 01, अलीगढ़ में 05, मिर्जापुर में 06, देवरिया में 51, सहारनपुर में 02, चित्रकूट में 02, बलरामपुर में 13, झांसी में 04, पीलीभीत में 01 ट्रेन आ चुकी हैं। कौशांबी, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, इटावा, कुशीनगर, हमीरपुर, बहराइच, लखीमपुर खीरी में भी ट्रेन आ रही हैं। श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में गुजरात से 397 ट्रेन से 5,65,333 लोग, महाराष्ट्र से 213 ट्रेन से 2,77,534 लोग, पंजाब से 171 ट्रेन से 1,95,129 प्रवासी कामगारों को लेकर प्रदेश में आ चुकी हैं। इसके साथ ही तेलंगाना से 16, कर्नाटक से 36, केरल से 09, आन्ध्र प्रदेश से 04, तमिलनाडु से 13, मध्य प्रदेश से 02, राजस्थान से 31, गोवा से 09, दिल्ली से 59, छत्तीसगढ़ से 01, पश्चिम बंगाल से 01, उड़ीसा से 01 ट्रेन तथा उत्तर प्रदेश से 54 ट्रेन के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न जनपदों में प्रवासी कामगारों को पहुंचाया गया है। उन्होंने बताया कि विभिन्न माध्यमों से लगभग 21 लाख से अधिक प्रवासी कामगारअब तक प्रदेश में आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कहीं भी, किसी भी जनपद में कोई पैदल यात्रा न करे। प्रवासी कामगार स्वयं तथा अपने परिवार को जोखिम में डालकर पैदल अथवा अवैध व असुरक्षित वाहन से घर के लिए यात्रा न करें। सरकार समस्त प्रवासी श्रमिकों के लिए सुरक्षित यात्रा हेतु पर्याप्त निःशुल्क बस एवं ट्रेन की व्यवस्था कर रही है। श्री अवस्थी ने बताया कि कोरोना वायरस के दृष्टिगत प्रदेश में लॉकडाउन अवधि में पुलिस विभाग द्वारा की गयी कार्यवाही में फेस मास्क न लगाने वाले 5,298 लोगों का चालान करते हुए 4,98,750 रुपए जुर्माना वसूला गया है। उन्होंने बताया कि हॉटस्पॉट क्षेत्र में लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले 38,472 लोगों पर कार्रवाई करते हुए 24,59,650 रुपए का जुर्माना वसूल किया गया। इसके अतिरिक्त दोपहिया वाहनों पर एक से अधिक सवारी बैठाने वाले 18244 लोगों से 14,90,725 रुपए का जुर्माना वसूल किया गया। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 873 हॉटस्पॉट क्षेत्र के 485 थानान्तर्गत 7,80,293 मकान चिन्हित किये गये। इनमें 43,44,982 लोगों को चिन्हित किया गया है। श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में स्थापित 5862 क्रय केन्द्रों के माध्यम से लगभग 259.14 लाख कुन्तल गेहूँ की खरीद की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की श्रमिक भरण-पोषण योजना के तहत निर्माण कार्यों से जुड़े, नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के लगभग 32.77 लाख श्रमिकों एवं निराश्रित व्यक्तियों को भी एक-एक हजार रुपए के रूप में कुल 327.67 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश के 73 जनपदों में 2332 कोरोना के मामले एक्टिव हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 3335 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि कल 836 पूल टेस्ट किये गये, जिसमें 143 पूल पॉजीटिव पाये गये। उन्होंने बताया कि आरोग्य सेतु अलर्ट जनरेट होने पर लोगों को कन्ट्रोल रूम से कॉल किया जा रहा है। अब तक कुल 30,994 लोगों को फोन कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली गयी है। उन्होंने बताया कि आशा वर्कर्स द्वारा प्रवासी कामगारों के घर पर जाकर सम्पर्क कर उनके लक्षणों का परीक्षण कर रही हैं, जिसके आधार पर आवश्यकतानुसार प्रवासी कामगारों का सैम्पल इकट्ठा कर जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि आशा वर्कर्स द्वारा अब तक 7,44,821 प्रवासी कामगारों से उनके घर पर जाकर सम्पर्क किया गया। उन्होंने बताया कि ग्राम एवं मोहल्ला निगरानी समितियों के द्वारा निगरानी का कार्य सक्रियता से किया जा रहा है। अब तक 89,131 निगरानी समिति के माध्यम से 70,85,368 घरों में रह रहे 3,54,83,704 लोगों से सम्पर्क किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सरकारी अस्पतालों द्वारा इमरजेन्सी सेवाएं दी जा रही हैं लेकिन 2500 से अधिक निजी चिकित्सालयों में इमरजेन्सी सेवाएं प्रारम्भ हो गई हैं। उन्होंने बताया कि टीकाकरण का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। कोविड वॉलण्टियर्स के रूप में एनएसएस, एनसीसी, नेहरू युवक मंगल दल के युवक/युवतियों को जोड़ा जा रहा है। उन्होंने बताया कि 25 मई से प्रारम्भ होने वाली घरेलू उड़ानों हेतु यात्रियों के लिए शीघ्र गाईडलाइन जारी की जायेगी।