स्मार्ट सिटी की तरह ग्रामों को स्मार्ट गांव के रूप में विकसित किया जाएगा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
December 3, 2019 • Mr Arun Mishra

> मुख्यमंत्री ने जनपद गोरखपुर एवं जनपद संतकबीरनगर की 14863.91 लाख रु0 की कुल 09 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 3056.21 लाख रु0 की 05 परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

> जनपद गोरखपुर में पीपीगंज मेहदावल मार्ग पर राप्ती नदी सेतु बढ़या ठाठर का लोकार्पण।

> विकास का कोई विकल्प नहीं होता तथा विकास से ही लोगों के जीवन में बदलाव लाया जा सकता है : मुख्यमंत्री

> जनपद संतकबीरनगर के बखिरा एवं बेलहर को नगर पंचायत बनाने की स्वीकृति।

लखनऊ (का ० उ ० सम्पादन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते मंगलवार को जनपद गोरखपुर में कैम्पियरगंज तहसील के ग्राम बान (बढ़या ठाठर) में पीपीगंज मेहदावल मार्ग पर राप्ती नदी सेतु बढ़या ठाठर का लोकार्पण किया। उन्होंने जनपद गोरखपुर एवं जनपद संतकबीरनगर की 14863.91 लाख रुपए की कुल 09 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 3056.21 लाख रुपए की 05 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जनपद गोरखपुर एवं संतकबीरनगर के आस पास के नागरिकों की वर्षों पुरानी मांग आज पूरी हो गयी है। इस पुल के बन जाने से आस-पास के लोगों को काफी सहूलियत होगी और क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने कहा कि विकास की सोच की परिकल्पना वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने की थी। विकास का कोई विकल्प नहीं होता तथा विकास से ही लोगों के जीवन में बदलाव लाया जा सकता है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार विकास के लिए निरन्तर कार्य कर रही है, बिना किसी भेदभाव के हर नागरिक को योजनाओं का लाभ पहुँचाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विगत ढाई वर्षों में प्रदेश सरकार द्वारा सौभाग्य योजना एवं पंडित दीन दयाल ग्राम ज्योति योजना के तहत गांव-गांव में बिजली पहुँच रही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा गरीबों को आवास, राशन कार्ड, शौचालय, आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख तक के मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। किसानों को उनकी फसल तथा गन्ना मूल्य का समय से भुगतान कराया जा रहा है।

योगी जी ने कहा कि प्रदेश में बन्द पड़े उद्योग पुन: संचालित हो रहे हैं। विगत 26 वर्षों से बन्द खाद कारखाना अगले वर्ष तक संचालित हो जाएगा, जिससे हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा। एम्स संचालित हो जाने से पूर्वी उत्तर प्रदेश सहित बिहार एवं नेपाल के लोगों को उच्च स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया हो रही हैं। प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न जनपदों में मेडिकल कॉलेज का निर्माण भी कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 15 नए मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं और इस सत्र में 14 नए मेडिकल कालेजों को स्वीकृति के लिये प्रस्ताव भेज दिया गया है। मेडिकल कॉलेजों में पढ़ने वाले डॉक्टरों से बॉण्ड भी भरवाया जा रहा है कि वह कम से कम दो वर्षों तक ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सेवाएं दें। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जनपद संतकबीरनगर के बखिरा एवं बेलहर को नगर पंचायत बनाने के लिए स्वीकृति प्रदान कर दी गयी है। नगर पंचायत बनने से क्षेत्र की बुनियादी सुविधाओं में वृद्धि होगी। जिनके मकान जर्जर हैं, उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) से लाभान्वित भी किया जाएगा। स्मार्ट सिटी की तरह ग्रामों को स्मार्ट गांव के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा योजना बनायी जा रही है। उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्रों में मिलने वाली सुविधाओं को नगर पंचायत के माध्यम से गांव तक पहुंचाकर लोगों के जीवन स्तर में परिवर्तन लाने का कार्य किया जाएगा।

योगी जी ने कहा कि विभिन्न राज्यों से प्रदेश को जोड़ने वाली सड़कों को फोरलेन किया जा रहा है। जिला मुख्यालयों को फोरलेन से जोड़ा जा रहा है। पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे का प्रधानमंत्री जी द्वारा शिलान्यास किया जा चुका है और तेजी से निर्माण कार्य कराया जा रहा है। इस माह में ही बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे का भी शिलान्यास किया जायेगा। जेवर में सबसे बड़ा एयरपोर्ट बनाया जा रहा है। इस अवसर पर विधायक कैम्पियरगंज फतेह बहादुर सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी निरन्तर विकास के लिए कार्य कर रहे हैं। कैम्पियरगंज विधानसभा में करोड़ों रुपए की लागत की सड़क का शिलान्यास व लोकार्पण करने के साथ ही, एक ग्रामीण स्टेडियम, डिग्री कॉलेज व इण्टर कॉलेज भी प्रदान किए गए हैं। विधायक मेहदावल राकेश सिंह बघेल तथा सांसद संतकबीरनगर प्रवीण निषाद ने भी मुख्यमंत्री जी का स्वागत किया। इस अवसर पर कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी व बड़ी संख्या में जनसमूह उपस्थित था।