स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग को पासपोर्ट कार्यालय की तर्ज पर विकसित किया जाए : रवीन्द्र जायसवाल
December 4, 2019 • Mr Arun Mishra
卐 लम्बित मामलों का शीघ्र निस्तारण करना सुनिश्चित करें - रवीन्द्र जायसवाल
 
卐 स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन मंत्री ने की समीक्षा बैठक।
लखनऊ। प्रदेश के स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रवीन्द्र जायसवाल ने मंगलवार को यहां महानिरीक्षक निबंधन शिविर कार्यालय के सभागार में विभागीय समीक्षा बैठक की। श्री जायसवाल ने सम्बन्धित अधिकारियों से मण्डलों से राजस्व प्राप्ति में हो रही कमी को दूर करने के लिए उनकी कार्ययोजना की जानकारी मांगी तथा राजस्व प्राप्ति के लक्ष्यों को शत-प्रतिशत प्राप्त करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। स्टाम्प मंत्री ने विभाग के सभी सक्षम अधिकारियों को निर्देशित किया कि दिसम्बर 2019 तक 04 वर्ष से ज़्यादा लम्बित मुकदमों का तथा जनवरी, 2020 तक माह 03 वर्ष से लम्बित मुकदमों का निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी लम्बित आर0सी0 की वसूली की कार्यवाही जल्द से जल्द करने के निर्देश दिये। राज्यमंत्री ने प्रदेश में लम्बित मामलों की जांच के निर्देश दिये तथा प्रयागराज में उ0प्र0 औद्योगिक विकास निगम के टाउनशिप में रजिस्ट्री न होने के कारण की रिपोर्ट मांगी और जिन मकानों की रजिस्ट्री नहीं हुई है उन्हें शीघ्र करने के निर्देश भी दिये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे अधिकृत काॅलोनी के स्थल का निरीक्षण करें। इसके साथ ही टोल प्लाजा से राजस्व की वसूली करना भी सुनिश्चित करें। श्री जायसवाल ने विभाग के अधिकारियों से यह अपेक्षा की है कि विभाग में आने वाली जनता के साथ सम्मानपूर्वक व्यवहार करें। उन्होंने मुख्यमंत्री जी के उस विजन का भी खाका अधिकारियों के सामने रखा जिससे विभाग को पासपोर्ट कार्यालय की तर्ज पर विकसित किया जा सके, जिसमें वातानुकूलित भवन, जनता के बैठने के लिए आरामदायक स्थान, पीने का स्वच्छ पानी, स्वच्छ शौचालय इत्यादि की व्यवस्था हो।