स्वर्ण ब्लॉक, सोना पहाड़ी, जनपद सोनभद्र के सम्बन्ध में वस्तु स्थिति की गयी स्पष्ट
February 23, 2020 • Mr Arun Mishra
卐 खनन हेतु उपयुक्त क्षेत्र की सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर नियमानुसार की जाएगी नीलामी - रौशन जैकब 
卐 भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट भूतत्व एवं खनिकर्म निदेशालय, उ प्र को अग्रिम कार्यवाही हेतु प्रेषित।
लखनऊ। सचिव एवं निदेशक भूतत्व एवं खनिकर्म उ प्र, डॉ रौशन जैकब ने सूचित किया है कि भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण उत्तर क्षेत्र, लखनऊ द्वारा जनपद सोनभद्र के सोना पहाड़ी क्षेत्र में महाकौशल समूह की फिलाईट चट्टानों के क्वार्टज वेन के अन्दर लगभग 52806.25 टन अयस्क संसाधन का आंकलन किया गया है, जिसमें स्वर्ण धातु की मात्रा 3.03 ग्राम प्रति टन है। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण द्वारा इस अन्वेषण की यूएनएफसी मानक की जी-3 स्तर की रिपोर्ट भूतत्व एवं खनिकर्म निदेशालय, उ प्र, लखनऊ को अग्रिम कार्यवाही हेतु प्रेषित की गयी है। उन्होंने बताया कि भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण उत्तरी क्षेत्र, लखनऊ की उक्त अन्वेषण रिपोर्ट के सम्बन्ध में नीलामी सम्बन्धी कार्यवाही हेतु भूतत्व एवं खनिकर्म निदेशालय, उ प्र, लखनऊ से गठित टीम द्वारा अन्वेषण किये गये क्षेत्र की भूमि से सम्बन्धित आख्या निदेशालय में प्राप्त हुई है। उक्त रिपोर्ट के सम्बन्ध में जिलाधिकारी सोनभद्र से भूमि सम्बन्धी आख्या प्राप्त की जा रही है, तदोपरान्त क्षेत्र को भूराजस्व मानचित्र पर अंकित कर खनन हेतु उपयुक्त क्षेत्र की आवश्यक औपचारिकता पूर्ण करते हुए नीलामी की आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।