विश्वेश्वरैया द्वार का शिलान्यास इंजीनियर्स दिवस पर कराने की पूरी तैयारी की जाए : केशव प्रसाद मौर्य
August 8, 2020 • Mr Arun Mishra
> लोक निर्माण विभाग के लखनऊ के अनुरक्षण खंड - 1 द्वारा विश्वेश्वरैया द्वार का निर्माण कराया जाएगा। 
 
 
लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की पहल और उनके निर्देशन पर लोक निर्माण विभाग मुख्यालय पर तकनीकी कौशल के धनी महान इन्जीनियर सर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया के नाम से विशाल द्वार बनाने की तैयारी की जा रही है। उप मुख्यमंत्री जी ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि विश्वेश्वरैया द्वार का शिलान्यास 15 सितंबर को (इंजीनियर्स दिवस) पर कराने की पूरी तैयारी की जाए। उन्होंने कहा कि भारत के विकास में अहम योगदान मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया का रहा है। इंजीनियरिंग में विशिष्ट तकनीकी कौशल के साथ - साथ सामाजिक सरोकारों को जोड़ने वाले इंजीनियर विश्वेश्वरैया का योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकता। विश्वेश्वरैया युग दृष्टा इंजीनियर थे। जलापूर्ति परियोजनाओं के निर्माण में उनका बहुत अहम योगदान रहा है। इस द्वार के निर्माण से इंजीनियरिंग जगत को बहुत प्रेरणा मिलेगी। कृष्णा राज सागर बांध विश्वेश्वरैया के तकनीकी कौशल और प्रशासनिक योजना की सफलता की कहानी कहता है। उन्हें 1955 में भारत के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से विभूषित किया गया था। लोक निर्माण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार विश्वेश्वरैया द्वार का डिजाइन बहुत ही अच्छा बनाया गया है। लगभग 12 मीटर ऊंचे और 12 मीटर  चौड़ाई में बनने वाले विश्वेश्वरैया द्वार का एस्टीमेट स्वीकृत हो गया है और इस हेतु टेंडर भी हो गया है। लोक निर्माण विभाग के लखनऊ के अनुरक्षण खंड - 1 द्वारा इसका निर्माण कराया जाएगा।